Nani ki kahani stories in hindi of nani, नानी और घने जंगल की कहानी

Nani ki kahani stories in hindi of nani

Nani ki kahani stories in hindi of nani, नानी और घने जंगल की कहानी, नानी सभी बच्चों को एक कहानी सुनाती है यह कहानी एक घने जंगल से शुरू होती है सभी बच्चों को लगता है कि इस कहानी में कुछ नहीं होगा but ऐसा नहीं आज जो nani कहानी सुनाने वाली है वह बहुत ही अजीब कहानी है जो कि बच्चों ने पहले कभी नहीं सुनी थी

Nani ki kahani : नानी और घने जंगल की कहानी 

Nani ki kahani

Nani ki kahani

nani अपनी कहानी सुनाती है कि जब दो बच्चे जंगल में फस जाते हैं तो वह कैसे बाहर निकलते हैं क्योंकि कोई भी बच्चा इस बात को नहीं जानता है कि उस घने जंगल से  कैसे बाहर निकला जा सकता है बाहर निकलने के लिए उन्हें कोई भी ज्ञान नहीं था नानी उन्हें कहानी सुनाती है कि जब बच्चे जंगल में फंस जाते हैं तो वह बाहर नहीं निकल सकते थे अंधेरा बहुत हो चुका था घने जंगल से निकलना आसान नहीं था

 

वह अपने घर जा रहे थे तभी रास्ते से भटक गए और उन्होंने एक गलत रास्ता चुन लिया था गांव में जाने के लिए उन्होंने घने जंगल का रास्ता लिया था जो कि बहुत ही खतरनाक था उन बच्चों को इस बात का ज्ञान नहीं था वह अंदर तो आ गए थे but अब बाहर निकलना बहुत मुश्किल हो रहा था दिन का उजाला था but फिर भी जंगल में कुछ नजर नहीं आ रहा वह घने जंगल में लगातार चल रहे थे उन्हें बहुत डर लग रहा था

 

but फिर भी वह इस बात को जानते थे कि अगर हम इस घने जंगल से बाहर निकलना चाहते हैं तो हमें कोशिश करनी होगी अगर हम कोशिश नहीं करेंगे तो हम इस जगह से बाहर नहीं निकल सकते थे वह दोनों बच्चे बहुत डरे हुए थे but फिर भी उस जंगल से बाहर निकलने में कोशिश कर रहे थे क्योंकि वे जानते थे कि अगर हम कोशिश करेंगे तो जरुर बाहर निकल सकते हैं वह घने जंगल में इसलिए भी लगातार चले जा रहे थे क्योंकि वहां पर रुकना आसान नहीं था

 

हो सकता था कि कोई जानवर उन पर हमला कर सकता था कुछ समय बाद ही उन दोनों बच्चों ने किसी शेर की आवाज सुनी ऐसा लग रहा था कि शेर पास में आने वाला है इसलिए दोनों बच्चे शेर की आवाज को सुनकर चुप गए थे कुछ देर छुपे रहने के बाद जब शेर की आवाज नहीं आई तो गए धीरे-धीरे आगे बढ़ने लगे और जंगल के रास्ते को पार करने में अपना समय व्यतीत कर रहे थे वे जानते थे कि अगर जंगल से बाहर नहीं निकलेंगे और यहां पर रात हो गई तो बाहर निकलना बहुत मुश्किल होगा

 

इसलिए लगातार चलते जा रहे थे भूख लग रही थी but फिर भी रुके नहीं थे उन्हें पता था कि जंगल बहुत घना है हमारे लिए मुसीबत बन सकता है इसलिए मुसीबत को दूर करने के लिए हमें भूख पर भी ध्यान नहीं देना बहुत देर चलने के बाद आखिरकार वह एक गांव की सीमा को देख सकते थे अबे देख सकते थे कि गांव कुछ ही दूरी पर रह गया है वह जंगल से बाहर निकल गए थे यह कोशिश उन्होंने इसलिए की थी क्योंकि उस जंगल से बाहर निकलना चाहते थे नानी ने सभी बच्चों को यह बात बताएं कि अगर जीवन में कुछ भी करना है तो तुम्हें लगातार चलना होगा

Nani ki kahani stories in hindi of nani

अगर तुम किसी मुसीबत से बाहर निकलना चाहते हो तो तुम्हें रुकना नहीं है अगर तुम लगातार चलते हो तो उस मुसीबत से आसानी से निकल सकते हो सभी बच्चे कहानी से समझ गए थे कि अगर हम किसी भी समस्या को दूर करना है तो मुश्किलों का सामना करना होगा यह मुश्किल हमे रुकने के लिए कहती है लेकिन हम रुक नहीं सकते है अगर आपको यह नानी की कहानी (Nani ki kahani) पसंद आयी है तो शेयर जरूर करे

Read more kids story :-

स्नो व्हाइट की कहानी 

दो कार्टून की नयी कहानी 

जादुई घड़ा की अनोखी कहानी

दादी माँ की अच्छी कहानी

जादुई पंछी की कहानी

बंदर की कहानी

परियों की कहानी

मोटू और पतलू की कहानी

तीन परियों की हिंदी कहानी 

अकबर बीरबल और नगर की समस्या

बंदर की जादुई कहानी

राजकुमारी और राजा की नयी कहानी

शेर और गधे की नयी हिंदी कहानी

लोमड़ी की नयी कहानी 

बिल्ली और लड़के की कहानी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *