Princess ki kahani and kids story in hindi for princess, राजकुमारी और राजा की नयी कहानी

Princess ki kahani and kids story in hindi for princess

Princess ki kahani and kids story in hindi for princess, राजकुमारी और राजा की नयी कहानी, राजा को राजकुमारी की चिंता हो रही थी इसलिए उन्होंने राजकुमारी से बात करने के लिए अपने महल में बुलाया था राजा ने राजकुमारी से कहा कि मेरी तबीयत ठीक नहीं है तुम्हें राज्य की सभी जिम्मेदारियों को आसानी से संभालने की जरूरत है

Princess ki kahani : राजकुमारी और राजा की नयी कहानी 

Princess ki kahani

Princess ki kahani

princess ने कहा कि ऐसा नहीं हो सकता आपकी तबीयत जल्दी ही ठीक हो जाएगी मुझे उम्मीद है कि आप फिर से काम करने लगेंगे अगर आप मुझे यह जिम्मेदारी देते हैं तो मेरे लिए यह बहुत बड़ी परेशानी साबित हो सकती है क्योंकि princess को यह लगता था कि जिम्मेदारी संभालने के लिए भी तैयार नहीं है but वह अपने पिताजी की तबीयत को भी अच्छा करना चाहती थी इसलिए राजा से इस बारे में बात कर रही थी राजा ने कहा कि मेरी तबीयत बहुत ज्यादा खराब हो रही है

 

इसलिए मुझे बहुत आराम की जरूरत है कुछ समय बाद एक साधु महाराज जी महल में पधारे और राजा से मिलने के लिए कहने लगे तभी सैनिक राजा से मिलने के लिए साधु बाबा को लेकर आता है राजा की तबीयत ठीक नहीं है यह साधु बाबा को पता चला तो उन्होंने कहा कि आप का इलाज हो सकता है बहुत ही जल्द ठीक हो सकते हैं but उसके लिए आपको एक जंगल में से उस पौधे की जड़ को लाना होगा जिससे कि आप की तबीयत ठीक हो सकती है but यह काम आसान नहीं है आपको उस पौधे की जड़ को लाने के लिए अपने ही घर का कोई आदमी भेजना होगा

 

जिसकी वजह से वह जड़ काम करेगी अगर आप उस जड़ को प्राप्त कर लेते हैं तो आप बिल्कुल ठीक हो जाएंगे सुनकर princess कहने लगे कि आप मुझे जगह बताइए मैं जाकर उस जड़ को लेकर आती हूं राजा ने साधु महाराज जी से पूछा कि महल का ही क्यों आदमी या फिर आप कह रहे हैं कि घर का ही कोई आदमी होना चाहिए साधु महाराज जी कहने लगे कि वह इसलिए कह रहे हैं क्योंकि पौधे की जड़ किसी को दिखाई नहीं देगी इसलिए मैंने ऐसा कहा है अब राजा को बात समझ में आ गई थी but princess घने जंगल में अकेली कैसे जाएंगे

 

साधु महाराज जी ने कहा कि अगर आपको ठीक होना है तो ऐसा ही करना होगा अगर कोई आदमी उनके साथ भेजा जाता है तो वह जड़ नजर नहीं आने वाली यह बात सुनकर राजा थोड़ा घबरा जाते हैं but जैसा साधु महाराज ने कहा की कोई बात नहीं है इसमें परेशानी नहीं आएगी तो राजा जी बात के लिए मान जाते हैं princess सुबह होते ही जंगल की ओर निकल जाती है और उस पौधे की जड़ को लेकर आना चाहती है जिससे कि उसके पिताजी की तबीयत ठीक हो जाए और फिर से राज्य को संभाल सकें

 

princess जंगल में पहुंच चुकी थी और उस जड़ की तलाश कर रही थी तभी princess ने देखा कि एक शेर सामने है उन पर हमला कर सकता है but राजकुमारी ने उस शेर को वहीं पर मार गिराया और उस जड़ को प्राप्त कर लिया उसके बाद वह जड़ लेकर महल की ओर वापस आ गई जब princess महल आयी तो साधु बाबा ने पहचान लिया और उसे राजा का इलाज किया और राजा कुछ ही दिन में ठीक हो गए और इस तरह राजा अपने राज्यों को संभालने के लिए बिल्कुल तैयार थे

Princess ki kahani and kids story in hindi for princess

but यह सब कुछ princess की वजह से हुआ है अगर princess कोशिश ना करती और उन्हें इस बात की चिंता ना होती तो वह शायद यह काम नहीं कर सकती थी but राजकुमारी ने सब कुछ भूल कर अपने पिताजी की तबीयत ठीक कर दिया था जीवन में परेशानियां आती हैं but उनका इलाज भी हो सकता है अगर आप अपने दिमाग को सही तरह से प्रयोग करते हैं तो आप किसी भी मुसीबत से बाहर निकल सकते हैं अगर आपको यह राजकुमारी की कहानी पसंद नहीं है तो आगे भी शेयर करें कमेंट करके हमें बताएं

Read more kids story :-

दादी माँ की अच्छी कहानी

जादुई पंछी की कहानी

बंदर की कहानी

परियों की कहानी

मोटू और पतलू की कहानी

तीन परियों की हिंदी कहानी 

अकबर बीरबल और नगर की समस्या

बंदर की जादुई कहानी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *